Mere Jaane ke Baad


पल भर में उम्र ख़त्म हो जाती है… 
न जाने जिन्दगी कहाँ गुम हो जाती है!

जिस ज़िन्दगी में इतने सपने देखते है…
बस एक पल में राख बन जाती है…
ज़िन्दगी यूॅंहिं खत्म हो जाती है!

जिन सपनों के लिए हम सारी ज़िन्दगी जीते है…
बस एक पल में खुशियां बिखर जाती है!

जो आईना देखकर हम सजा सवरा करते है…
उसे आखरी बार हम देख भी कहॉं पाते है!

जो सोचा वो पा लिया…
जो कहा वो सुन लिया… एैसा होता कहाँ हैं!

जो रिश्ते कभी छूट गए…
वो मिलने फिर आ गए… मेरे जाने के बाद !!

ज़िन्दगी तू भी खूबसूरत है… दूर जाने के बाद…
फिर भी जीती है यादो में… दूर जाने के बाद!!

16 thoughts on “Mere Jaane ke Baad

  1. Anonymous

    Aise khayalaat…Akasmik Bhaavna ka vivechan kiya hai ya….kuch nayi seekh mili hai zindagi se…
    Sab dukh duur hone ke baad mann prasann hoga,,,Ye aapka Bhram hai…
    Mann Prasann Rakho….Sab Dukh Duur Ho Jaayenge…

    Like

    1. Sukriya 😊 Zindagi har din kuch naya seekh deti hai …aur hum sab, roz kuch na kuch sikhte hi hai … it’s about perspective from where we see Life & everyone has different way to look at Life . I just spoke about one perspective – “Truth of Life “!

      Like

Leave a Reply to ankyatgim Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s